प्रधानमंत्री आवास योजना उत्तर प्रदेश – सभी के लिए आवास (शहरी)

प्रधानमंत्री आवास योजना उत्तर प्रदेश – सभी के लिए आवास (शहरी) के तहत,  47 हजार 554 का घरों का निर्माण किया जा रहा है। शहर में रहने वाले बेघर परिवारों के लिए ये अच्छी खबर है। प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत आवंटन के सर्वेक्षण का कार्य पूरा कर लिया गया है।

प्रधानमंत्री आवास योजना उत्तर प्रदेश के तहत गरीबों को आवास देने के लिए सरकार द्वारा नामांकित नोएडा एजेंसी ने इसके लिए सर्वेक्षण और सत्यापन का कार्य पूरा कर लिया है।

जल्द ही,प्रधानमंत्री आवास योजना उत्तर प्रदेश के तहत जिला और नगरपालिका पंचायतों में आवास योजना का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। सबसे अधिक जिला मुख्यालय पर 16069 घरों का निर्माण होगा। ककोड़ में कम से कम  606 घरों का निर्माण किया जाएगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना सबके लिए के तहत पहासू ,अनूपशहर, जहांगीराबाद, गुलावठी, औरंगाबाद, नरोरा, बुगरासी, छतारी, डिबाई, खानपुर, बीबीनगर, स्याना, शिकारपुर,खुर्जा और सिकंदराबाद में आवासों का निर्माण किया जाएगा।

आवेदन के लिए पात्रता – आवेदक के पास देश में कहीं भी अपना पक्का मकान न हो, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों की  वार्षिक आय तीन लाख से कम हो और निम्न आय वर्ग के लोगों की वार्षिक आय तीन लाख से छह लाख रुपये तक होनी चाहिए। आवेदक का किसी भी बैंक में खाता हो, बैंक पास बुक की फोटो कापी, जो वर्तमान में चालू हो। आवेदक को आधार कार्ड की फोटो कापी और अपना मोबाइल नंबर भी देना होगा।

मरम्मत के लिए 2.50 लाख तक – जिन लोगों के पास अपना घर है लेकिन उसकी मरम्मत के लिए पैसा नहीं है। सरकार ने ऐसे परिवारों को भी वित्तीय सहायता देने का निर्णय लिया है। पात्रता की शर्तों को पूरा करने के बाद झूमर पट्टी पुनर्वास के तहत झुग्गी निवासियों को 1.30 लाख रूपये दिए जाएँगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना उत्तर प्रदेश के आवेदकों को ऋण आधारित सब्सिडी दी जाएगी। आवेदक को आवास बनाने के लिए 2.50 लाख रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.