प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) असम में फ़रवरी 2017 से शुरू

प्रधानमंत्री आवास योजना (PMAY) – शहरी, केंद्र सरकार की एक प्रमुख किफायती आवास योजना जिसे शुरुआत में असम के 9 शहरों में लागू किया जाना था, अब इस योजना को राज्य के सभी 97 शहरों में लागू किया जाएगा। राज्य के शहरी विकास विभाग द्वारा फरवरी 2017 के पहले सप्ताह से एक साथ सभी 97 शहरों में इस योजना को लागू किया जायेगा।

सरकार की प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घरों का निर्माण एक समान करने पर जोर होगा। सरकार सभी शहरों में इस योजना को सफल लागू कराने की दिशा में काम कर रही है और राज्य के शहरों में घर चाहने वाले गरीब लोगों को एक नया जीवन देना चाहती है।

केंद्र सरकार ने 25 जून, 2015 को प्रधानमंत्री आवास योजना का शुभारंभ किया था। इस योजना का लक्ष्य साल 2022 तक शहर के गरीबों के लिए 2 करोड़ घर प्रदान करना है। इस योजना के तहत धन संबंधी सहायता, सब्सिडी और कम ब्याज दरों सहित कई साधनों के माध्यम से लोगों को सहायता प्रदान की जाएगी।

सामान्य सेवा केन्द्रों (common service centers) के माध्यम से हाल ही में भी देश भर में प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन स्वीकार करना शुरू कर दिया है। जो योग्य लोग है वो अपने निकटतम कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना – शहरी के उम्मीदवारों का चयन SECC 2011 के डाटा के आधार पर किया जा रहा है। उम्मीदवारों के चयन और अनुमोदन प्रक्रिया पंचायत स्तर से शुरू होकर और आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय तक पहुँचती है

प्रधानमंत्री आवास योजना – शहरी की आधिकारिक वेबसाइट (pmaymis.gov.in) पर जाकर इच्छुक उम्मीदवार इस सूची में अपना नाम चेक कर सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *