आपदा राहत सहायता योजना उत्तर प्रदेश


यूपी सरकार ने भवन और सनिर्माण कर्मकार के लिए आपदा राहत सहायता योजना की शुरुआत की है| ये योजना गरीब और असंगठित परिवार से सम्बंधित लोगो को आर्थिक सहायता देने और उनकी स्थिति में सुधार लाने के उद्देश्य से शुरू की गई है| इसका लाभ केवल वही कामगार उठा साकेंगे जो पंजीकृत है। Uttar Pradesh aapda rahat sahayta yojana के बारे मे हम आपको सभी जरूरी जानकारी जैसे लाभ, ऑनलाइन आवेदन फॉर्म इत्यादि देने जा रहें हैं, आप इन सभी सुचनाओ को विस्तारपूर्वक पढे|

UP Aapda Rahat Sahayta Yojana

उत्तर प्रदेश (यूपी ) आपदा राहत सहायता योजना का उद्देश्य:-

उत्तर प्रदेश आपदा राहत सहायता योजना का मुख्य उद्देश्य उन निम्न वर्ग के गरीब श्रमिको की सहायता करना है जो निर्माण कार्य करते समय प्राकृतिक आपदा का शिकार हो जाते हैं या फिर किसी प्राकृतिक आपदा से उनका मकान गिर जाता है या किसी अन्य परकार का नुक्सान हो जाता है| एसी स्तिथि में श्रमिक वर्ग इस योजना में अपना आवेदन कर इससे मिलने वाली आर्थिक सहायता राशि का लाभ ले सकते है|

श्रमिको को अब इस योजना के लाभ लेने के लिए सरकारी कार्यलय जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, वो अपने घर बैठे ऑनलाइन आवेदन करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं|

स्कीम का नाम आपदा राहत सहायता योजना
सम्बंधित राज्य उत्तर प्रदेश
लाभार्थी रजिस्टर्ड श्रमिक
सहायता राशि Rs. 1000
सम्बंधित विभाग उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड

योजना की आधिकारिक अधिसूचना (Notification PDF)

आपदा राहत सहायता योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशि:-

इस योजना के तहत श्रमिको को कोरोना माहामारी जैसी प्राक्रतिक आपदा के चलते 1000 रूपये की आर्थिक सहायता राशि बैंक खाते में भेजी जा रही है|

उत्तर प्रदेश Aapda Rahat सहायता योजना के क्या लाभ है?

  1. श्रमिको को प्राक्रतिक आपदा से हुए नुकसान की भरपाई के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाएगी|
  2. निम्न वर्ग के श्रमिको की आर्थिक स्तिथि में सुधार होगा|
  3. श्रमिक इस योजना का लाभ लेने के लिए खुद से ऑनलाइन आवेदन कर के ले सकेंगे|
  4. इस आपदा राहत सहायता योजना के तहत दी जाने वाली सहायता राशि सीधे श्रमिको के बैंक खाते में जाएगी|

उत्तर प्रदेश (यूपी ) आपदा राहत सहायता योजना के आवेदन के लिए मुख्य दस्तवेज:

  1. पहचान पत्र
  2. आधार कार्ड
  3. श्रमिक का बैंक अकाउंट नंबर
  4. मोबाइल नंबर
  5. पासपोर्ट साइज फोटो
  6. आय प्रमाण पत्र
  7. लेबर कार्ड (श्रमिक कार्ड)
  8. आपदा से नुकसान का प्रमाण

यूपी आपदा राहत सहायता योजना के आवेदन के लिए मुख्य योग्यताएं:-

  1. आपदा राहत सहायता योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिक को पंजिकृत होना जरुरी है, मतलब जिन श्रमिको के पास श्रमिक कार्ड है वो ही इस योजना का लाभ ले पायेंगे|
  2. श्रमिको को उत्तरप्रदेश राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है तब ही वो पंजीयन फॉर्म भर पायेंगे|
  3. श्रमिको के पास खुद के नाम से बैंक में खाता होना जरूरी है, तब ही वो इस योजना का लाभ ले पायेंगे|

UP Aapda Rahat Sahayta Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे?

निचे आपदा राहत सहायता योजना में ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया की पूरी जानकारी दी गई है, आप इसके अनुसार अवेदान प्राक्रिया पूरी कर सकते हैं:

  • सर्वप्रथम आपको इस आपदा राहत सहायता योजना की ऑफिसियल वेबसाइट http://upbocw.in/ पर जाना है|
  • इसके बाद आपको योजनाएं का लिंक दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है|
  • इस पर क्लिक करते ही ठीक निचे एक लिस्ट खुलेगी जिसमे आपको योजनाओं के आवेदन का ऑप्शन आपको दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है|
  • अब आपके सामने नया पेजखुल जाएगा जिसमे आपको आपदा राहत सहायता योजना के ऑप्शन पर क्लिक करना है|
  • अब आपके सामने फिर एक नया पेज खुल जाएगा जिसमे आपको इस योजना के ऑनलाइन आवेदन फॉर्म की पूरी जानकारी प्राप्त हो जायेगी, जिसे आपको पुरा करना है|

उत्तर प्रदेश (यूपी ) आपदा राहत सहायता योजना की आवेदन स्तिथि के बारे में कैसे जाने:-

सर्वप्रथम आपको इस आपदा राहत सहायता योजना की ऑफिसियल वेबसाइट http://upbocw.in/ पर जाना है| इसके बाद आपको योजनाएं का लिंक दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है|

  • अब आपके सामने एक सूचि खुलेगी उसमे आपको योजना के आवेदन की स्तिथि के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • योजना के आवेदन की स्तिथि के लिंक पर क्लिक करने के बाद इसका अगला पेज खुल जाएगा जो इस प्रकार दीखाई देगा
  • यहाँ आपको आवेदन की संख्या या फिर पंजीयन की संख्या दर्ज करनी है और Submit पर क्लिक करना है, जिसके बाद आपने जो आवेदन किया है उसकी पूरी स्तिथि आपके सामने आ जायेगी|
  • यदि आपके ऑनलाइन आवेदन में कोई त्रुटी है तो आप वहां पर तुरंत सुधार भी कर सकते है|
आधिकारिक वेबसाइट UPBOCW
आवेदन की स्तिथि देखें Check
नई सरकारी योजनाओं की सूची Hindi Yojana



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *